Dhara 370 Kya Hai in Hindi: धारा 370 के बारे में जानिए हिंदी में

हैलो दोस्तों, आज मैंने इस पोस्ट में बात करने वाला हूँ Dhara 370 Kya Hai in Hindi, धारा 370 कब लागु हुआ था और इस धारा को भारत सरकार क्यों हटा दिया.

अगर आप भारतीय नागरिक है तो आपके लिए Dhara 370 Kya Hai उसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहिए क्योंकि यह धारा सभी राज्य के लिए नहीं है, इसको सिर्फ एक राज्य के लिए लागु किया गया था.

Dhara 370 Kya Hai in Hindi?

Dhara 370 kya hai in hindi

Dhara 370 भारतीय संविधान के अनुसार जम्मू-कश्मीर राज्य में लागु किये गया था. यह धारा भारत का अन्य किसी राज्य के लिए नहीं है.

इस धारा के अनुसार जम्मू-कश्मीर राज्य के नागरिक भारत का अन्य राज्य के नागरिकों के तुलना में कुछ विशेष अधिकार प्राप्त करते थे.

धारा 370 के मुताबिक भारत का अन्य राज्य की लोग जम्मू-कश्मीर का जमीन या संपत्ति नहीं खरीद सकते थे.

इस धारा के मुताबिक भारत का राष्ट्रपति जम्मू-कश्मीर की संविधान को बर्खास्त नहीं कर सकता है.

धारा 370 के मुताबिक जम्मू-कश्मीर के नागरिक भारतीय झंडा के साथ साथ अपना अलग सा एक झंडा है.

यदि कोई जम्मू-कश्मीर का लड़की भारत का अन्य राज्य की लड़का के साथ शादी होता है तो इस धारा के मुताबिक उस लड़की का नागरिकता कश्मीर से ख़त्म हो जाते थे.

इसके अलावा भी और कई सारे विशेष अधिकार है जो धारा 370 के मुताबिक जम्मू-कश्मीर का नागरिकों को मिलता था.

Dhara 370 Kab Lagu Hua Hai?

धारा 370 को 17 नवंबर 1952 सन में लागु किया गया था. यह धारा लागु होने के बाद जम्मू-कश्मीर की लोगों को कई सारे सुविधाएँ मिलती थे जो अन्य राज्य की लोगों को नहीं मिलती थी.

भारत 15 अगस्त 1947 सन में अंग्रेज से आजादी होने के बाद इस देश दो पार्ट बन गयी थी, एक है पाकिस्तान और दूसरा है हिंदुस्तान (बर्तमान भारत).

पूरा भारत में जितने भी राज्य थे उन सभी राज्य को ये दोनों पार्ट पाकिस्तान और हिंदुस्तान में से किसी एक पार्ट में मिलने को कहा गया था.

जिस राज्य पाकिस्तान के साथ मिलित हुआ वो पाकिस्तान का हिस्सा बन गया था और जिस राज्य हिंदुस्तान के साथ मिलित हुई वो हिंदुस्तान का हिस्सा बन गया था.

लेकिन जम्मू-कश्मीर राज्य का महाराजा हरिसिंह ने अपनी राज्य को किसी देश के साथ मिलित नहीं किया था.

जब पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर राज्य पर हमला किया था जम्मू-कश्मीर को जबर दखल करके पाकिस्तान के साथ मिलित करने के लिए तब राजा हरिसिंह अपना राज्य को पाकिस्तानी हमला से बचाने के लिए हिंदुस्तान के साथ मिलित करने की इच्छा किया था.

उसके बाद भारतीय कुछ शर्ते के अनुसार जम्मू-कश्मीर राज्य को भारत के साथ मिलित किये गया था.

जम्मू-कश्मीर भारत के साथ मिलित होने के पहले उसका कुछ इलाका पाकिस्तानी सेना ने दखल कर लिया था जिसके कारण भारतीय संविधान इस राज्य में लागु नहीं किया गया था.

जम्मू-कश्मीर को चलाने के लिए भारत सरकार की निर्देश अनुसार धारा 370 को लागु किया गया था जिससे जम्मू-कश्मीर को भारत का अन्य राज्य से बहुत अलग राज्य बना दिया था.

Dhara 370 Kab Hatai Gayi Hai?

ग्रहमंत्री अमित शाह ने 5 अगस्त 2019 सन में धारा 370 को हटाने के लिए संसद में “जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम 2019” प्रस्ताव पेश किया था, उसके बाद भारत सरकार इस प्रस्ताव को मंजूर करके धारा 370 को हटा दिया है.

Dhara 370 Kyon Hataya Gaya?

देश आजादी होने के बाद जब जम्मू-कश्मीर भारत के साथ मिलित हुई थी तब कश्मीर का बहुत सारे इलाका पाकिस्तान के कब्जा में था.

तो इस कारण से कश्मीर राज्य अन्य राज्य से बहुत अलग था इसके लिए इस राज्य में भारत का पूरा संविधान लागु करना संभव नहीं था.

जम्मू-कश्मीर को चलाने के लिए अस्थायी रूप में धारा 370 को लागु किया गया था. इस धारा को तीन खंड में बनाई गयी है और उसका तीसरे खंड में यह लिखा है कि भारत का राष्ट्रपति जम्मू-कश्मीर का धारा 370 को कभी भी हटा सकता है.

दरअसल धारा 370 को भारत सरकार की द्वारा बनाया गया था नाकि जम्मू-कश्मीर की सरकार की द्वारा.

इसलिए भारत सरकार के पास यह पूरा क्षमता था की किसी भी टाइम धारा 370 को हटा सकता है और इस धारा को हटाने की मुख्य कारण है यह धारा अस्थायी रूप में था.  


तो दोस्तों मैंने आपको बताया है की Dhara 370 Kya Hai in Hindi और इस धारा को भारत सरकार कब और क्यों हटाया है.

इस पोस्ट आपको कैसे लगा जरुर मुझे कमेंट करके बताइए, अगर इस पोस्ट के बारे में आपका कई भी सुझाब है तो भी मुझे बता सकते है.

मुझे उम्मीद है आप इस पोस्ट पढ़के समझ गया है कि Dhara 370 Kya Hota Hai.

इस पोस्ट को Social Media जैसे Facebook, Twitter और WhatsApp के माध्यम से आपका दोस्तों के साथ Share करें.

आजके लिए इतना ही, मिलते है नई एक पोस्ट के साथ.

आपका दिन शुभ हो!     धन्यवाद!

Share this post

4 thoughts on “Dhara 370 Kya Hai in Hindi: धारा 370 के बारे में जानिए हिंदी में”

Leave a Comment